Welcome Guest | Login

"भितरका बात"

"भितरका बात"

आय बरका कका के रस्ता कातक दलान पर- वर्तमानकमुखिया पंचायत समिति सेहो बैसल छैथि... !

बाट धेने जाईत -आबैत लोक सब कन्खियाईत देखि मुस्कियैत आगू बैढ़ि जाईत अई... 
कतेक गोटे आश्चर्य चकित जाईत अई नजारा देखि.. 
कारण मुखिया समिति अपने भैरि गाम लुत्ती लगौने अई जे -
बरका कका विरोधी छथि हमरा सबहक... 
तहन फेर... 
हेतैह कोनहु, 
"
भितरका बात" !!

देखू बरका कका.,                    
भले ही अहाँक विरोधक बावजूद हम मुखिया बैनि गेलौंह ...मुदाअहाँके सब दिन अपन गुरूजी मानैत एलहुँ मानैत रहब....

तहिना हमरहु बात.. हम पंचायत समिति पद पर भले हि अहाँके आशिर्वाद बिनु आसीन भेलहुँ ..
मुदा हमर मनोभाव अहाँक विचार बाहर नै...

अरे, तोहरा दुनू गोटे के हम नीक चिन्हैत छियह... 
बात की छै से कह....

की कहू सबटा जैनिते छी अहाँ.. 
पंचायत में विकास करबाक लेल 
हमसब -सबसंग वादा के ने छी.. 
लोक सब के, बिस्वाससेहो छै हमरा पर में.... 
मुदा ,
विकास तहने हेतैह जहन कोनहु काजक लेल जे भी कोनों आवंटित धन राशि छै से मुखिया के अकाउन्ट में एतैह ...

घौंर काज हेतै... 
अछह कहू जे आवंटित पाई 
जौं पंचायत समिति के अकाउन्ट में एतै की दिक्कत....

अरे किछो नै बाजि दियैह-कतेक पाई खर्च के हम मुखिया बनल छी तकर अनुभव छह की नै तोरा... 
"
मुखिया संघ" बनलैहन से बुझल छह की नै...

अरे "मुखिया संघ"बनलै "समिति संघ" सेहो बैनि जेतैह... 
ओहू में कोनों कोदैर चलबै परैत छैह.....

जे भी होई मुदा बुझै छहक ने जे सबटा मुखिया एक्कहि टा अरान पर अरल छै -जेकोनो भी आवंटित पाई वार्ड विकास समिति के अकाउन्ट में पंचायत के खाता हस्तांतरण नै हेबाक चाही... आब उच्च न्यायालय सेहो राशि निकासी पर रोक लगा देने छैह...

से मुखिया सब एहि दुआरे अरान पर अरल छै जे ईलेक्सन में जे पाई खर्च केलकै तकर असूली कोना हेतैह अगिला ईलेक्शन लरबाक लेल पाई कतय जम्मा हेतैह..

अरे चुप रहअ तू दुनू गोटे-
बड्ड बजै छह.... 
पंचायत भैरक लोक जे अपन वोट के तोहरा सबके अपन जन प्रतिनिधि बनेलकह से कथी लेल... 
जौं सत्ते पंचायत में काज करबाक मंशा छह पाई कतहु भी ककरहु भी अकाउन्ट में आबै की दिक्कत.. काज हेबाक चाही ....विकासहेबाक चाही...

से बात नै छैह यौ.... हमरकतेक पाई नुकसान भेल अई से जैनतहि छी अहूँ... 
हमरा कोनों फ्री में वोट देलक कियो.. सबके कोनों नै कोनों माध्यम पैसा ठुसेने छियैह..... तैंके बाजत हमरा लग कहियौ ... एक साल गेल हमरा मुखिया बनला... सब गोटे अपन निजी काजक लेल टोकैतो अई मुदा पंचायत विकास के बात करबाक साहस ककरहु लग नै छैह... किया की सबहक मुँह हम पहिने बंद देने छियैह...

तकर की मतलब सबटा तु असगरे गीर लेबहक... हमजे पंचायत समिति बनल छियैह से अहिना, मुँहताकैत रहै लेल.. पंचायत के नौ टा वार्ड सदस्य ओहिना चुप रैह जेतह से बुझैत छहक....

अरे फेर शुरू गेलह तु दूनूह गोटे.... तोहरादुनू गोटे के बात एकटा बात साफ बुईझ गेलियैह जे एहु पंचवर्षीय में कतेक विकास हेतै पंचायतक.......

यौ बरका कका किछु "भितरकाबात"कहूने....

भितरका बात सोझें में छह... जकरहिखाता में पाई आबैत छैह से आबय दहक.... पंचायत भैरि में मुँहपूरूख सबके तू पहिने ठुसेने छहक तैं कियो किछु रोक टोक सबाल जबाब करबे नै करतह... कने मने वार्ड सदस्य सब के सेहो सुँघा दिहक तु दुनूह गोटे बैस के आपसी समझदारी में अपन अपन लगानी के हिसाब बैंटि लिअह.....!!

काज.... विकास....सेहो हेबाक चाही... हम समिति पद पर छियैह लोक हमरहु कहैत अई यौ....

अरे मुखिया हम छियैह ,तू किया डेराईत छह... तोरा जे कहतह तकरा कहिहक मुखियाजी बात करू.... 
बचलै काज विकास से-कागज फेसबुक पर धारा प्रवाह चैलते रहतै.......

हईय्याह........ असल में भेलह "भितरकाबात"
"
संतोषी"